FREE Tally Beginner To Advanced Online Course in Hindi

आजकल लगभग सभी छोटे बड़े बिज़नेस में अकाउंट को मैनेज करने के लिए टैली का इस्तेमाल किया जाता है और सबसे खास बात यह है की यह सभी जगह पर इस्तेमाल किया जा सकता है और लोग कर भी रहे है। 

About Tally Course : 

इस कोर्स में आप हम आपको पूरा टैली गाइड करने वाले है। टैली हर कोई सीख सकता है। टैली के लिए कुछ बेसिक requirment रहती है वह सब हम आपको आगे बताने वाले है साथ में इस कोर्स का सिलेबस को देखने वाले है। 

> Tally क्या है ?

टैली एक ऐसा पॉपुलर सॉफ्टवेयर जो 1986 में आया। इस सॉफ्टवेयर के आने के बाद जो लोग ऑफिस में हाथ से डॉक्यूमेंट, बिलिंग, बैंकिंग करते थे, वह सब इस टैली सॉफ्टवेयर पर करने लगे। टैली को इस्तेमाल करने वालो ने अपना एक्सपीरियंस में बताया की 

यह किसी बिज़नेस का एक्यूरेट डाटा निकाल कर उसे लम्बे समय तक रिकॉर्ड करके रख सकता है, जिसकी वजह से यह और पॉपुलर होता गया। 

> Tally की requirment क्या है ?

बेसिक कंप्यूटर को ज्ञान होना चाहिए, और दसवीं या बारवी तक शिक्षित होना जरूरी है (जॉब पाने के लिए) 

> Tally के लिए कंप्यूटर कैसा होना चाहिए ?

Processor : Intel Core2Duo या इससे बड़ा। 

RAM : 32-bit operating system: 2 GB या इससे ज्यादा। 

Hard disk : 1 GB 

Monitor resolution : 1024 x 768

Operating system : Microsoft Windows XP SP2 (64-bit)

Connectivity : Internet

> Tally Basics :

Accounting : बिज़नेस में यह monetary terms को रिकॉर्ड करती है जैसे कोई बिज़नेस ट्रांसक्शन, या कोई एकाउंटिंग एक्टिविटी। इसमें यह शामिल होते है – Cash flow statements, Balance Sheet, Earnings Statement, Financial Statements:

Billing : किसी वस्तु के बिल को बनाना, बिलिंग कहते है। इस बिल में goods की सारी इनफार्मेशन होती है जैसे – Quantity, Quality और कुछ नंबर जैसे – Tax Invoice, Bill of Supply, Invoice, Bill आदि। 

Payroll : इसमें मैनजमेंट से जुड़े रिकॉर्ड आते है। इसमें शामिल है Pay Slip, Payroll Statements, Provident Fund (PF) आदि। 

Banking : यह बैंकिग का अहम मॉडल है जिसमे बैंकिंग ट्रांसक्शन का रिकॉर्ड और बैंकिंग से जुड़े काम होते है जैसे Printing Cheques, Deposit slips, BRS यह सब काम इसके अंतर्गत आते है 

Taxation : इसमें सभी काम टैक्स से जुड़े होते है जैसे – Goods and Service Tax (GST)

Inventory : यह वह स्टॉक है जो किसी आर्गेनाईजेशन का द्वारा आरम्भ किया जाता है। इसमें यह कार्य शामिल है – वस्तु की भविष्य में पैकिंग आदि। 

> Tally Advanced Overview :

Accounting Fundamental में  >>   Goods and Services Tax

Company Formation में   >>   Balance Sheet

Ledgers में    >>   Printing of Cheque

Bank Reconciliation में    >>   Credit Limit

Principles of Taxation में   >>   TDS and its Calculation

Data Synchronisation में   >>   Cost Categories and Centres

Stock Analysis and Transfer में  >>   Understanding VAT and Excise Duty

Sales and Purchase Order Processing में   >>   Contra, Journal, and Manufacturing Voucher

#2. Recording & Reporting

Fundamentals of Accounting में    >> Introduction to TallyPrime

Maintaining Chart of Accounts  में   >> Recording and Maintaining Accounting Transactions

Banking में   >>  Generating Financial Statements and MIS Reports

Data Security में   >>  Company Data Management

#3. Accounts Payable And Receivable

Storage and Classification of Inventory में   >>   Accounts Receivable and Payable Management

Purchase and Sales Order Management में    >> Tracking Additional Costs of Purchase

Cost/ Profit Centres Management  में    >>   Budgets and Scenarios

#4. Taxation And Compliance

Goods and Services Tax में    >>   Tax Deducted at Source

Management of Business Data में >>  Moving to the Next Financial Year

निष्कर्ष : यह टैली कोर्स आपको एक अच्छी खासी जॉब भी दिला सकता है जिसकी सैलरी ही 50,000 से शुरू होती है। यदि आप सीखना चाहते है तो यहाँ से आप सिख पाएंगे। हमारा उदेश्य है की आप टैली आसानी से समझ की उन्हें रन कर सके। 

> टैली सीख कर यह 15 जॉब पोस्ट पा सकते है :

1. Accounting Clerk

2. Accounting Associate

3. Accounts Assistant 

4. AccountsExecutive 

5. Accounts Officer 

6. Accounts Supervisor 

7. Tally Operator

8. Tally Accounts Manager

9. Tally Accounts Executive 

10. Service Coordinate with Tally

11. Tally Junior Accountant

12. Tax Accountant

13. Bookkeeper

14. Investment Banker

15. Financial Tally Analyst

> टैली चलाने वाली 6 Top Companies :

1. Accenture

2. IBM India

3. Genpact

4. Reliance Industries

5. Deloitte

6. PricewaterhouseCoopers

> Frequently Asked Questions :

Ques 1. टैली कितने प्रकार की होती है ?

Ans : टैली दो प्रकार की होती है – ERP 9 Single user और Tally multi-user 

Ques 2. टैली में कितने चैप्टर होते है ?

Ans : 18 चैप्टर 

Ques 3. टैली कोर्स का क्या फायदा है ?

Ans : आप एक स्टॉक एक्सपर्ट और एक accountant बन सकते है 

Ques 4. क्या टैली सीखना मुश्किल है ?

Ans : जी नहीं, यह एक सिंपल सॉफ्टवेयर है। 

Ques 5. टैली का लेटेस्ट version कौन सा है ?

Ans :  ERP 9 टैली का लेटेस्ट version है।