SHO Kaise Bane – योग्यता, कार्य, वेतन, परीक्षा

Uncategorized

SHO Banne Ke Liye हर साल ना जाने कितने लोग कोशिश में लगे रहते हैं, लेकिन उनमें से कुछ लोग ही SHO बन पाते हैं, एसएचओ का पोस्ट बहुत ऊंचा होता है, जो सभी पुलिस अधिकारियों से सबसे अलग 

होता है, शायद यही कारण है जिसकी वजह से लोग SHO बनना ज्यादा पसंद करते हैं। 

आप SHO Kaise Ban Sakte Hai, एसएचओ बनने के लिए क्या योग्यता है, कितनी आयु सीमा होनी चाहिए, Sho बनने में कितना समय लगता है आइए जानते हैं :

Sho Full Form In Hindi 

SHO का फुल फॉर्म होता है “स्टेशन हाउस ऑफिसर”

S – Station 

H – House

O – Officer

SHO पुरे थाने का इंचार्ज होता है। 

SHO Kaun Hota Hai – एसएचओ किसे कहते है ?

SHO एक पुलिस अधिकारी होता है, जो देश के आंतरिक क्षेत्रों की रक्षा करते हैं, अंतरिक्ष क्षेत्र वह क्षेत्र होते हैं, जैसे भारत सीमा के सुरक्षा के लिए सैनिक तैनात होते हैं, उसी तरह राज्य की सुरक्षा के लिए एसएचओ नियुक्त किए जाते हैं। जिसके नीचे छोटे पद के पुलिस अधिकारी होते है। 

जिले के अपराध को कम करने, कानून व्यवस्था बनाए रखने और राज्य के हर तरह के मामलों को सुलझाने का कर्तव्य SHO निभाते हैं। 

SHO Police Incharge : जैसा सभी जिलों में पुलिस थाने होते हैं बड़े जिले में अधिक पुलिस थाने होंगे और छोटे जिले में कम, उस पूरे थाने का इंचार्ज SHO होता है। 

एक पुलिस थाने में अलग-अलग पदो पर पुलिस अधिकारी नियुक्त किए जाते हैं जैसे सब इंस्पेक्टर, पुलिस इंस्पेक्टर, हवलदार आदि। उन सबको 

नियंत्रित करने के लिए एसएचओ को नियुक्त किया जाता है, जो थाने मालिक होता है। 

SHO Kaise Bane – एसएचओ बनने के लिए योग्यता

यदि आपने SHO बनने का विचार बना लिया है, तो हम आपको बताते हैं कि आपको इसके लिए क्या कदम उठाने होंगे, जिससे आप SHO बन सकते हैं :

10वीं और 12वीं कक्षा पास करें : सबसे पहले चरण में आपको 10वीं या 12वीं कक्षा में पास होना जरूरी है। इन कक्षाओं को पास करने के लिए आप कोई भी विषय ले सकते हैं। 

डिग्री प्राप्त करें : जब आप वहां विद्यालयों में पास हो जाते हैं तो आगे बढ़ने के लिए आपको किसी कॉलेज, यूनिवर्सिटी या इंस्टीट्यूट में डिग्री प्राप्त करनी होगी। यह डिग्री आप किसी भी स्ट्रीम में कर सकते हैं जैसे बीएसए, बीए, बीकॉम आदि। जब आप ग्रेजुएट हो जाते है तो आवेदन कर सकते है। 

निर्धारित आयु सीमा : एसएचओ बनने के लिए व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए तभी वह SHO बन सकते है। 

शारीरिक तंदुरुस्ती : SHO बनने वाले का शरीर स्वस्थ रहना चाहिए, उसे किसी भी प्रकार की कोई बीमारी नहीं होनी चाहिए, क्योंकि SHO भर्ती के लिए आपका फिजिकल टेस्ट लिया जाता है जिसमे आपका बल  देखा जाता है यदि आप कमजोर दुबले पतले हैं तो आप SHO अधिकारी नहीं बन सकते। 

SHO पद की भर्ती कैसे होती है ?

आप सीधे – सीधे SHO नहीं बन सकते, इसके लिए पहले आपको छोटे पद पर नियुक्त होना होता है। जैसे सब इंस्पेक्टर, हेड कॉन्स्टेबल बनने के प्रमोशन के बाद आपको SI का पद मिलता है। 

SI से SHO कैसे बने ?

एसएचओ बनने के लिए पहले आपको SI पेपर क्लियर करना होगा। SI की परीक्षा हर राज्य में आयोजित की जाती है :

लिखित परीक्षा : SI Paper पेपर में आपको जनरल नॉलेज, कानून व्यवस्था, करंट अफेयर आदि विषय के बारे में सवाल आते हैं। 

Physical Test : परीक्षा में पास होने के बाद आपका फिजिकल टेस्ट लिया जाता है और चेक किया जाता है कि आपको कोई बीमारी तो नहीं है। 

Interview : फिजिकल टेस्ट के बाद अंतिम पड़ाव होता है इंटरव्यू इसमें आपको समाज, कानून अवस्था, घटनाओं के बारे में सवाल किए जाते हैं। SHO पद वाले को 3 स्टार मिलते हैं उनकी कंधे की पट्टी में लाल रंग और नीले रंग की पट्टी होती है। 

SHO का क्या काम होता है ?

जिले का एसएचओ अधिकारी दिए गए क्षेत्रों को संभालना होता है, उस राज्य में कोई वारदात होती है, उसको नियंत्रित करने के लिए एसएचओ जाता है जिले में शांति बनाए रखने और जिले को सुरक्षित करने के लिए SHO कदम उठाता है

  • जिले में हो रहे गैर कानूनी कार्य को रोकना। 
  • राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कदम उठाना SHO अधिकारी का कार्य होता है। 
  • क्षेत्र में होने वाली दुर्घटना, वारदात का जायजा लेना। 
  • यातायात वाहनों की चेकिंग करना, अवैध लाइसेंस को वालो पकड़ना। 
  • थाने में कुछ बदलाव करना, मरम्मत करना। 
  • अपने से नीचे कार्य कर रहे अधिकारियों को नियंत्रित करना और उन्हें निर्देश देना 
  • थाने की हर गतिविधि को नियंत्रित करना। 

SHO बनने के लिए क्या गुण होने चाहिए ?

पुलिस अधिकारी का कार्यभार संभालना कोई मामूली बात नहीं है, इसके लिए मेहनत वाला व्यक्ति और मानसिक शक्ति से मजबूत होना चाहिए। क्युकी कुछ केस ऐसे होते हैं जिनको हल करने में महीना लग जाते हैं, 

  • SHO बनने वाला अधिकारी शारीरिक तौर पर स्वस्थ और तंदुरुस्त होना चाहिए। 
  • जल्दी निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए। 
  • आवाज कड़क और शरीर मजबूत होना चाहिए
  • कार्य के प्रति ईमानदार और जागरूक होना चाहिए। 
  • व्यक्ति समय का पाबंद होना चाहिए
  • अपने से नीचे वाले अधिकारियों को नियंत्रित करना आना चाहिए। 

Conclusion : SHO पुलिस अधिकारी का पद पाने के लिए पहले तो शारीरिक तौर पर स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है, तभी आप अपराधियों को सबक सिखा पाएंगे, हमने आपको बताया है कि SHO Kaise Ban Sakte Hai यहाँ से आप SHO बनने की तैयारी शुरू कर सकते हैं। 

FAQs About SHO Kaise Bane : 

Q1. SHO के कितने स्टार लगे होते हैं ?

Ans : SHO के तीन स्टार लगे होते हैं और उनके कंधे की पट्टी पर लाल और नीले रंग की पट्टी लगी होती है। 

Q2. SHO की सैलरी कितनी होती है ?

Ans : SHO अधिकारियों का वेतन उनके पद अनुसार होता है यदि कोई छोटा पद है तो 32,000 शुरूआती वेतन मिलता है वही बड़ी पद वाले की सैलरी 70,000 से अधिक होती है। 

Q3. SHO बनने के लिए कितनी पढ़ाई करनी होती है ?

Ans : SHO बनने के लिए पहले आपको किसी विद्यालय में 12वीं पास करनी होती है, फिर उसके बाद डिग्री प्राप्त करनी होती है, तब आप SHO पद के लिए तैयार हो सकते हैं। 

Leave a Comment