बवासीर के घरेलू उपचार और इलाज 

Uncategorized

बवासीर एक ऐसी बीमारी है जो दर्दनाक और शर्मनाक दोनों हैं। इस बीमारी के बारे में लोग बताने में भी बहुत कतराते हैं। बवासीर क्यों होता है इसका इलाज क्या है हम विस्तार में आपको बताने वाले है। 

बवासीर क्या है ?

बवासीर बीमारी को जल्दी से जल्दी ठीक करने पर विचार करना चाहिए, नहीं तो यह और भी पीड़ादायक हो सकती है। बवासीर में शरीर के मलाशय हिस्से में सूजन की दिक्कत आती है जिसकी वजह से मस्से बनने लगते हैं। फिर गुदे में जलन और खुजली की भी समस्या होनी लगती है। 

बवासीर को “पाइल्स” भी कहा जाता है। बवासीर एक छुआछूत बीमारी भी है, जो साथ रहने वाले व्यक्ति को भी हो सकती है इसलिए इसको जल्दी से जल्दी ठीक करना जरूरी है। 

बवासीर के लक्षण

  • शौच के समय जलन और खून का बाहर निकलना
  • गुदे के आसपास सूजन और मस्से बन जाना
  • गुदे वाले स्थान पर जलन और खुजली होना
  • व्यक्ति को ब्लीडिंग होना
  • मल त्याग करते समय दर्द होना
  • बार – बार मल निकालने का मन करना
  • शौच के बाद भी पेट साफ महसूस ना होना
  • गुदे के पास गांठ बन जाना

बवासीर होने के कारण : 

  • व्यक्ति को अधिक बार दस्त होने से बवासीर हो सकता है। 
  • बुजुर्गों को यह बीमारी हो सकती है, लेकिन आजकल यह नौजवानों में भी दिखाई दे रही है। 
  • जेनेटिक्स के कारण। 
  • अधिक तेल, मसाले वाला भोजन खाने के कारण
  • बहुत कम शारीरिक विधियों करना 
  • कब्ज होने के कारण
  • बहुत अधिक वजन उठाने के कारण
  • अधिक समय तक खड़े रहने से 
  • ज्यादा नशा करने के कारण जैसे शराब, बीयर आदि। 

बवासीर कब तक ठीक हो जाता है ?

जो बवासीर छोटे होते हैं उन्हें ठीक होने में ज्यादा समय नहीं लगता, लेकिन जो बहुत बड़े बाबासीर होते हैं उन्हें ठीक करने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है. 

इसके लिए बढ़िया खानपान, इलाज सही तरीके और सही समय पर करना चाहिए, तभी वह ठीक हो सकते हैं नहीं तो यह समय के साथ बढ़ते ही जाते हैं। 

बवासीर के घरेलू उपचार और इलाज :

#1. सेब का सिरका

सेब का सिरके में बहुत सारे गुण पाए जाते हैं। बवासीर के इलाज के लिए सेब का सिरके को एक गिलास पानी में डालकर, इसका सेवन करें या सेब के सिरके में रुई को अच्छी तरह भिगोकर गूदे वाले स्थान पर लगाएं। 

इससे आपको काफी राहत का अहसास होगा और इस उपाय से खुजली भी दूर होगी। 

#2. मूली 

कहते हैं बवासीर को ठीक करने के लिए मूली का उपयोग सबसे अच्छा माना जाता है, इसके लिए आधे गिलास मूली के रस में एक चुटकी नमक डालकर इसे अपनी दिनचर्या में दो – बार पिये। इस इलाज से बवासीर ठीक होता है। 

#3. काला जीरा

काला जीरा बहुत सी बीमारियों को दूर करता है, जिसमे बवासीर भी शामिल है। इसके लिए आपको एक पेस्ट तैयार करना होगा। पेस्ट तैयार करने के लिए जीरा पाउडर को पानी के साथ मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बनाये, फिर जलन वाली जगह पर अच्छे से लगाए इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी। 

#4. बादाम

बदाम एक ऐसी चीज है जो शरीर को शक्ति प्रदान करता है हर दिन सुबह बादाम का सेवन करने से  बवासीर के लक्षणों में प्रभाव डाला जा सकता है। यह उपचार बहुत ही सस्ता और अच्छा घरेलू उपचार है। बादाम के तेल को खुजली वाले स्थान पर लगा कर आप इसमें राहत पा सकते हैं। 

#5. अंजीर

अंजीर में पाए जाने वाले तत्व बीमारियों को दूर भगाते हैं। ऐसे ही बवासीर की बीमारी को दूर करने के लिए आप अंजीर को पानी में भिगोकर रख दीजिए, फिर बाद में इसका सेवन करें। बवासीर को ठीक करने के लिए यह एक कारगर उपाय है। 

#6. नींबू

पाइल्स की बीमारी ठीक करने में नींबू का अहम योगदान है इसके लिए आप नींबू के रस में शहद मिलाकर और थोड़ा अदरक मिक्स कर के रोजाना सेवन करें, यह बवासीर के होने के कारणों को नष्ट कर देती है जिससे आप सुरक्षित रहते है। 

#7. गरमपानी

बवासीर के दर्द में राहत पाने के लिए आप गरम पानी के बाथ टब में कुछ समय तक रहे। इस अवस्था में आपको काफी राहत महसूस होगी और बवासीर में होने वाली तकलीफों में फर्क दिखाई देगा। गर्म पानी आपके शरीर के रोम छिद्र खोलने में सहायक होते है। 

#8. नारियल की छाल 

बवासीर के इलाज में नारियल की जटाओं को उपयोग में लेना होता है इसके लिए आप नारियल की जटाओं को जलाकर बिल्कुल राख कर लीजिए, फिर इसे ताजे मट्ठे या लस्सी में मिलाकर सुबह खाली पेट सेवन करें। यही इलाज बवासीर को ठीक करने में कारगर साबित हुआ है। 

#9. जैतून का तेल 

बवासीर वाली अवस्था में आप जैतून के तेल को सूजन वाली जगह पर लगाएं। जैतून का तेल सूजन को कम करने का काम करता है आप इसे गुदे पर भी लगा सकते है। 

#10. एलोवेरा जेल 

एलोवेरा जेल बवासीर की समस्या को दूर करता है। एलोवेरा के जेल को आप गुदे वाली जगह पर अच्छे से लगाएं। इससे आपको जलन और दर्द दोनों में राहत मिलेगी।  आप इस जेल को खा भी सकते हैं, जिससे कब्ज की समस्या कभी नहीं होती। 

बवासीर से बचाव करने के तरीके :

  • अधिक तेल, मसाले वाला भोजन का सेवन ना करें, यह बवासीर के लक्षण को बढ़ाता है। 
  • बाहर का खाना, जंक फूड कम से कम खाएं। 
  • अधिक समय तक एक जगह बैठे या खड़े ना रहे। 
  • हर सुबह योग और व्यायाम करने की आदत डाले। 
  • अधिक से अधिक पानी पिए 

आखरी शब्द : यहां बवासीर के घरेलू उपचार हमने आपके साथ शेयर कर दिए हैं यदि कोई बवासीर की बीमारी का शिकार है तो वह घरेलू इलाज आजमा सकता है।

 देसी इलाज करने से यह भी फायदा है की जो इस बीमारी के बारे में बताने के लिए शर्म महसूस करते हैं वह घरेलू उपचारों से ही बिना किसी को बताये ठीक कर सकते हैं। 

Leave a Comment