इकाई दहाई की परिभाषा और प्रश्न उत्तर

हर विधार्थी पढ़ाई करने के बाद कोई न कोई सरकारी नौकरी करता है या फिर कही पर जॉब करता है। लेकिन हर विधार्थी के जीवन में पढ़ाई के पश्चात गणित विषय का जरूर काम पड़ता है। गणित सब्जेक्ट को जीवन में हर जगह व्यक्ति द्वारा उपयोग में लिया जाता है। हमारे भारत में संख्या की गिनती करते समय इकाई और दहाई प्रणाली का जरूर उपयोग होता है। इस प्रणाली का हम सभी बचपन में उपयोग करते आ रहे है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको इकाई और दहाई की परिभाषा और उदाहरण के बारे में जानकारी देने वाले है। 

इकाई की परिभाषा 

इकाई उस संख्या को कहा जाता है। जैसे हम किसी संख्या को लिखते है। तो उस संख्या के ढाई तरफ से जो पहला आंक होता है। उसे इकाई के नाम से जाता है। 

उदाहरण के ऊपर में यदि कोई संख्या 2,56,895  है। तो उसमे दाई तरफ से पहला अंक 5 आ रहा है। अतः इस संख्या में इकाई अंक 5 होगा। 

दहाई की परिभाषा 

गणित की कोई भी संख्या जिसमे दाई तरफ से दूसरा अंक दहाई कहलाता है। 

उदाहरण 

2,56,895 

ऊपर दी गयी इस संख्या में आप देख सकते है, की दाई तरफ से दूसरा अंक 9 आ रहा है। अतः इस संख्या में 9 को दहाई कहा जाएगा। 

सैकड़ा की परिभाषा

कोई भी संख्या मजिसमे दाई तरफ से तीसरी संख्या जिसे सैकड़ा के नाम से जाना जाता है। 

उदाहरण 

2,56,895 

ऊपर दिए गए इस उदाहरण में आप देख सकते है, की इस संख्या में दाई तरफ से तीसरी संख्या 8 है। अतः इस संख्या में सैकड़ा के रूप में 8 को गिना जाएगा। 

हजार की परिभाषा 

किसी भी गणित की संख्या में दे तरफ से आने वाली चौथी संख्या को हजार के रूप में गिना जाता हैं। 

जैसे: 

2,56,895 

ऊपर दी गयी इस संख्या में आप देख सकते है, की दे तरफ से गिनने पर चौथी संख्या 6 आ रही है। तो 6 संख्या को हजार के रूप में गिना जाएगा। 

लाख की परिभाषा 

जब भी किसी संख्या को दाई तरफ से गिना जाता है, तो उस संख्या में छठे नंबर पर आने वाला अंक लाख के रूप में गिना जाएगा। 

जैसे: 

2,56,895 

ऊपर जो उदहारण के रूप में संख्या लिखी गयी है। उस संख्या में आप देख सकते है, की छठे नंबर पर 2 आ रहा है। अतः इस संख्या में 2 को लाख के रूप में गिना जाएगा। 

मिलियन की परिभाषा 

जब भी किसी संख्या को दे तरफ से जगिना जाता है, तो उस संख्या में सातवें नंबर पर आने वाला अंक मिलियन के रूप में जाना जाता है। हिंदी मिलियन को दस लाख भी कहा जाता है। 

जैसे: 

10,00,000 = मिलियन = दस लाख 

20,00,000 = दो मिलियन = बीस लाख 

30,00,000 = तीन मिलियन = तीस लाख 

बिलियन की परिभाषा

जब भी अंको की गिनती होती है। उस समय बिलियन का स्थान दाई तरफ से गिनने पर दसवे नंबर पर आता है। एक बिलियन की संख्या को गणित में लिखा जाए तो एक के पीछे 9 जीरो आते है। बिलियन को एक अरब भी कहा जाता हैः दूसरे शब्दों में 1 बिलियन को 10 करोड़ के नाम से भी जाना जाता है। 

जैसे 

1,000,000,000 = 1 अरब = दस करोड़ 

2,000,000,000 = 2 अरब = बीस करोड़ 

3,000,000,000 = 3 अरब = तीस करोड़ 

ट्रिलियन की परिभाषा 

ट्रिलियन का देखा जाये तो जब भी किसी संख्या की गिनती को  दाई तरफ से शुरू किया जाता है, तो तेरहवें स्थान पर ट्रिलियन का नंबर आता है। 1 ट्रिलियन को यदि गणित के रूप में लिखा जाए, तो 1 के पीछे 12 जीरो लगाने पड़ते है। 1 ट्रिलियन में 1000 बिलियन होते है। 

जैसे:

1 ट्रिलियन = 1000 बिलियन =  1,000,000,000,000 

इकाई और दहाई को कैसे पहचाने 

जब की किसी संख्या को दाई तरफ से गिनना शुरू किया जाता है, तो शुरुआत में इकाई से गिनना चालू किया जाता है। 

इकाई – दहाई – सेकड़ा – हजार – दस हजार – लाख – दस लाख(मिलियन) – करोड़ – दस करोड़ – बिलियन(अरब) 

इसी कर्म में अंको की गिनती होती है। बच्चो को गिनती का कर्म में दस करोड़ और अरब तक ही सिखाया जाता है। लेकिन इससे भी आगे ही गिनती आप सीख सकते है। 

निष्कर्ष 

आज के आर्टिकल में हमने इकाई और दहाई की परिभाषा और उदाहरण के बारे में जानकारी आपको दी है। हमें उम्मीद है, की हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आयी होगी। यदि किसी व्यक्ति को इस आर्टिकल से जुड़ा हुआ कोई सवाल है, तो वह हमें कमेंट में पूछ सकता है। हम आपके सवाल को जल्द से जल्द सुलझाने का प्रयास करेंगे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *