घनमूल क्या हैं, घनमूल के सूत्र, ट्रिक्स और उदाहरण

इस लेख में आपको गणित विषय के घनमूल से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी दी गई है जैसे घनमूल क्या है? घन मूल के सूत्र घन मूल के ट्रिक्स को समझाया गया है। यदि आप भी घनमूल से संबंधित कोई भी जानकारी लेना चाहते हैं तो इस लेख को अवश्य पढ़ें घनमूल के बारे में जाने से पहले हमें यह जानना आवश्यक है कि घन क्या होता है। आइए सबसे पहले जानते हैं कि घन क्या होता है और गणित विषय में इसका क्या महत्व है?

घन क्या है?

जब कभी भी आप किसी भी संख्या के वर्ग को उसी संख्या से गुणा करते हैं तो उस से आने वाले परिणाम को ही घन कहा जाता है। मान लीजिए कि आप 2 के वर्ग 4 को फिर से 2 से गुणा करते हैँ यानि 2×2×2=8 होता है यानि 2 का घन 8 होता है।

सबसे पहले घन को दर्शाने का श्रेय रेने दकार्टे को दिया जाता है।

किसी भी धनात्मक संख्या का घन धनात्मक संख्या ही होती है और ऋणात्मक संख्या का घन ऋणात्मक संख्या ही होती है लेकिन किसी ऋणात्मक संख्या का वर्ग सदेव एक धनात्मक संख्या होती है।

घनमूल क्या होता है?

जब किसी संख्या को लगातार तीन बार गुणा किया जाता है तो उसका आने वाला परिणाम उसे संख्या का घनमूल कहलाता है।

घनमूल कैसे निकालते हैं?

सबसे पहले किसी भी संख्या का अभाज्य गुणनखंड निकालते हैं उसके अभाज्य गुणनखंडों में से समान गुणनखंडो के 3 के जोड़े बनाएं फिर उन्हें आपस में गुणा करने पर जो गुणनफल आता है वही उस संख्या का घनमूल होता है।

मान लीजिए 216 संख्या के गुणनखंड 2×2×2×3×3×3 है तो 2×3 को गुणा करने पर 6 आता है यानि कि 6, 216 का घनमूल है।

निष्कर्ष:-

इस लेख में आपने जाना की घन क्या है? और घनमूल क्या है? और आप किसी संख्या का घनमूल कैसे निकालते हैं। उम्मीद है आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी होगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *