इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए 20 योगासन

कोरोना वायरस के इस दौर में। खुद को स्वस्थ रखना बहुत ही आवश्यक है। अपने शरीर को स्वस्थ रखना तथा बीमारियों से बचने के लिए अपनी इम्युनिटी क्षमता को बढ़ाना बहुत ही आवश्यक है। अपनी इम्युनिटी क्षमता को बढ़ाने के लिए वैसे तो कई लोग डाइट का सहारा लेते हैं। और व्यायाम भी करते हैं। लेकिन योगा के द्वारा भी आप अपनी इम्युनिटी क्षमता को बढ़ा सकते हैं। आज के इस लेख में हम बात करेंगे इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए 20 योगासन के बारे में जिन्हें रोज़ाना करने से आपकी इम्युनिटी क्षमता बढ़ सकती है। तो आइए जानते हैं –

इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए 20 योगासन

इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए 20 योगासन कुछ इस तरह है – 

भुजंगासन:- भुजंगासन बहुत ही आसान होता है। इसमें आपको सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं। अपने दोनों हाथों को आगे की तरफ रखें। फिर अपने साथी को ऊपर बताते हुए अपने हाथों को पीछे लाएं आपने सिर ऊपर की तरफ उठाएं। ऐसा करते समय सांसों को सामान्य रखें। और धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए सामान्य मुद्रा में वापस आ जाए। ऐसा दो-तीन मिनट रोजाना करें। 

सेतुबंधासन:- सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं और अपने हाथों को पैरों के समांतर रखें। फिर धीरे धीरे अपने शरीर को ऊपर की तरफ उठाएं। कुछ देर इसी अवस्था में रहें। फिर वापस सामान्य मुद्रा में आ जाए। यह आसन रोज़ाना करने से आपकी इम्युनिटी क्षमता बढ़ती है। 

बालासन:- इस आसन को करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों पैरों क्या घुटने के बल बैठ जाएं। फिर अपने आगे की तरफ झुकाते हुए ज़मीन से टिकाने की कोशिश करें। तथा कुछ देर इसी अवस्था में रहें। ऐसा रोज़ाना 2 से 3 मिनट तक ज़रूर करें। 

हलासन:- इस आसन को करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं और फिर और आगे की तरफ रखें तथा अपने दोनों पैरो को ऊपर की तरफ उठाते हुए सिर के पास लें जाएं और अपने पंजो को ज़मीन पर टिका दें। ऐसा करने से आपकी इम्युनिटी क्षमता बढ़ती है। 

पश्चिमोत्तानासन:- ऐसा करने के लिए सीधे बैठ जाएं और अपने पैरों को आगे की तरफ रखें। अपने हाथों को लम्बी सांस लेते हुए धीरे-धीरे ऊपर की तरफ ले जाएं। फिर नीचे की तरफ लाते हुए अपने पंजों को पकड़े फिर अपना सिर अपने घुटने से टिकाने की कोशिश करें। और कुछ देर इसी अवस्था में रहें। इसे दो से 3 मिनट के लिए रोज़ाना करें। 

धनुरासन:– इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं और फिर अपने दाएं हाथ से दाएं पैर को तथा बाएं हाथ को बाएं पैर से पकड़े। फिर धीरे-धीरे अपनी छाती अपने दोनों पैरों की तरफ़ उठाएं। कुछ देर बाद धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में वापस आ जाए। ऐसा रोजाना करने से आप की इम्युनिटी क्षमता बढ़ती है। 

सर्वांगासन:- सर्वांगासन को करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं और फिर अपने हाथों को ज़मीन पर टिका दें। फिर अपने पैरो और अपनी कमर को ऊपर की तरफ उठाएं। ऐसा करने से आपके शरीर का पूरा भार आपके हाथों और कंधो पर आ जाता है। इसलिए अपनी गर्दन और हाथों का संतुलन बनाएं रखें। धीरे-धीरे अपनी अवस्था में वापस आ जाएं। 

कपालभातिप्राणायाम:- कपालभाति प्राणायाम को करने के लिए पहले सीधे बैठ जाएं और अपने दोनों हाथों को ज्ञान मुद्रा में रखें। फिर नाक द्वारा लंबी सांस लें और धीरे-धीरे छोड़ें। याद रहे कि सांस छोड़ते समय ध्वनि की आवाज आनी चाहिए। जबकि सांस लेते समय ध्वनि नहीं आनी चाहिए। रोजाना दो से 3 मिनट के लिए यह जरूर करें। यह आपकी इम्युनिटी क्षमता को बढ़ाता है। 

भस्त्रिकाप्राणायाम:- इस प्राणायाम में आपको सीधे बैठना होता है। उसके बाद लंबी सांस लेते हुए पेट को अंदर की तरफ कीजिए और सांस को छोड़ते हुए पेट को बाहर की तरफ लाएं। यह बहुत ही आसान होता है। ऐसा दिन में दो बार अवश्य करें। 

उज्जाईप्राणायाम:- उज्जाई प्राणायाम को करने के लिए सीधा जमीन पर बैठे और नाक द्वारा लंबी सांस लें तथा अपनी मांसपेशियों को ढीला ना छोड़ें। ध्यान रहें सांस को छोड़ते वक्त अपने शरीर में कंपन महसूस करें। ऐसा करने से भी हमारी इम्यूनिटी क्षमता बढ़ती है। 

त्रिकोणासन:- इस आसन को करने के लिए सीधा खड़ा हो जाए और अपने दोनों पैरों के बीच में कम से कम 4 फीट की दूरी रखें। फिर अपने दाहिने पैर के पंजो को बाहर की तरफ करें। फिर अपने दाहिने हाथ से दाहिने पैर के पंजो को पकड़े और अपने बाएं हाथ को आसमान की तरफ सीधा उठाएं। ऐसे करने से त्रिकोण जैसी आकृति बनती है। कुछ देर तक इस आसन को रोज़ाना ज़रूर करें। 

पदंगुष्ठासन:- इस आसन को करने के लिए ज़मीन पर सीधा लेट जाएं और दोनों पैरो को आगे की तरफ रखें। फिर अपने दाएं पैर को ऊपर की तरफ उठाएं और बाएं हाथ से पंजो को पकड़े। फिर बाएं हाथ को कमर पर रखें। और अपनी गर्दन को आसमान की तरफ रखें। ऐसा रोज़ाना करें। 

ताड़ासन:- ताड़ासन करने के लिए अपने अपने दोनों पैरो की पालथी मार कर बैठ जाएं। फिर अपने दोनों हाथों को नमस्ते की अवस्था में लाएं। और इसी अवस्था में ऊपर की तरफ दोनों हाथों को उठाए और लंबी सांस लें ऐसा करने से आपकी इम्युनिटी क्षमता बढ़ती है। 

धनुरासन:- धनुरासन करने के लिए सबसे पहले पेट के बल जमीन पर लेट जाएं और अपने दोनों हाथों को पीछे ले जाते हुए अपने पैरों को पकड़े फिर अपनी छाती और अपने दोनों पैरों को आसमान की तरह ऊपर उठाएं कुछ देर इसी अवस्था में रहे फिर धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में वापस आ जाएं। ऐसा करने से भी आपकी इम्यूनिटी क्षमता बढ़ती है। 

सुप्तमत्स्येंद्रासन:- इस आसन को करने के लिए सबसे पहले अपने दाहिने पैर को बूढ़े और दाहिने पैर को उसके ऊपर सीधा रखें। फिर अपने भाई ने हाथ को पीछे की तरफ ले जाते हुए दाहिने पैर के घुटने से मिलाएं और अपने दाहिने हाथ को पीछे की तरफ सीधा रखें। अपने घर दोनों को अपने दाहिने हाथ की तरफ रखें। इससे आपके पेट पर अधिक असर होता है। 

अधोमुखश्वनासान:- इस आसन को करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं। अपने दोनों हाथों को धीरे-धीरे ऊपर की तरफ ले जाए और फिर अपने दोनों हाथों के माध्यम से अपने शरीर को नीचे की तरफ ले जाएं और अपने हाथों को जमीन पर टिका दें। ध्यान रहे कि आपके पैरों के घुटने सीधे रहने चाहिए। ऐसा करने से आप आपकी इम्यूनिटी क्षमता बढ़ती है।

अन्तिम शब्द

तो दोस्तों आज के इस लेख में हमने इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए 20 योगासन के बारे में जाना है मुझे उम्मीद है कि आज का यह लेख आपके लिए काफी उपयोगी साबित हुआ होगा तो अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इस लेख को आप अपने दोस्तों रिश्तेदारों तथा सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इम्यूनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए योगासन के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके और वह भी इन योगासन को अपनाकर अपनी इम्युनिटी क्षमता बढ़ा सकें। 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *