एसिडिटी की समस्या के घरेलू इलाज और उपचार

Uncategorized

एसिडिटी और गैस एक आम समस्या है जो अधिक तेल, मसाले वाला भोजन खाने के कारण पेट में एसिडिटी हो जाती है, जिससे पेट दर्द, जलन की समस्या उत्पन्न होती है। 

आइए जानते हैं एसिडिटी क्यों होती है इसके क्या कारण है और इसे ठीक कैसे किया जा सकता है। 

एसिडिटी क्या होती है ?

अनुचित भोजन करने के कारण एसिडिटी की समस्या आती है जब आप अधिक तेल यह गर्म भोजन का सेवन करते हैं तब यह समस्या सबसे ज्यादा आती है जब पेट में “गेस्ट्रिक ग्लेंड” एसिड का उत्पादन बढ़ जाता है तब एसिडिटी होती है। 

गलत तरीके के खानपान करने से भी एसिडिटी हो सकती है। 

एसिडिटी क्यों होती है कारण ?

  • जो व्यक्ति अधिक नॉनवेज खाने का सेवन करता है। 
  • एक्सरसाइज ना करने की वजह से एसिडिटी होती है। 
  • गैस पर बना खाना खाने से 
  • धूम्रपान, शराब और नशे करने के कारण
  • पेट की अन्य बीमारियों के कारण
  • ज्यादा तेल, मसाले वाला भोजन खाने के कारण
  • पूरी नींद ना लेने की वजह से
  • अधिक समय तक भूखे रहने से भी एसिडिटी होती है 
  • भोजन करने के बाद तुरंत सो जाने के कारण
  • जब कोई इंसान अधिक तनाव महसूस करता है जिसकी वजह से खाना हजम नहीं होता और वह एसिडिटी की समस्या बन जाती है
  • भोजन पचने से पहले फिर भोजन कर लेने के कारण
  • मिलावट वाला भोजन खाने के कारण 

एसिडिटी के लक्षण क्या है ?

  • पेट में जलन होती है
  • खट्टी डकार आती है
  • बेचैनी और जी मचलने लगता है
  • मुंह का स्वाद कड़वा हो जाता है 
  • सीने में जलन महसूस होती है 
  • उल्टी जैसा महसूस करना
  • पेट फूलना

एसिडिटी से अपना बचाव कैसे करें ?

यदि आप इन तरीकों को अपनाते हैं तो संभावना है कि आप एसिडिटी और गैस जैसी समस्याओं से दूर रह सकते हैं इसके लिए आपको खानपान में ध्यान और परहेज करना होगा :

  • चाय और कॉफी ना पिये यह पेट में गैस बनाते हैं। 
  • बाहर का खाना और जंकफूड का कम से कम सेवन करें
  • कोशिश करें एक ही बार में ज्यादा खाना ना खाएं। 
  • सुबह के समय खाली पेट ठंडे पानी का सेवन करें
  • यदि आप एसिडिटी से बचना चाहते हैं तो खाने के बाद अनानास के रस का सेवन करें
  • कोशिश करें तेल मसाले वाला भोजन कम से कम खाएं
  • भोजन को अच्छे से चबाकर खाएं, ताकि हज़म होने में आसानी हो। 

एसिडिटी का घरेलू इलाज और उपचार:

एसिडिटी कोई बड़ी समस्या नहीं है लेकिन लोग काफी पीड़ा महसूस करते हैं, क्योंकि इसमें पेट दर्द, जलन, सिर दर्द, उल्टी आने से शरीर कमजोर पड़ जाता है। हमारे द्वारा दिए गए घरेलू इलाज से आप इन समस्याओ को खत्म कर सकते हैं। 

उपाय #1. दाल चीनी

दालचीनी में पाए जाने वाले एंटी एसिड गुण शरीर में पाचन की शक्ति को तेज कर देते है, जिससे खाया हुआ खाना जल्दी हजम होता है और एसिडिटी की समस्या नहीं होती है। 

उपाय #2. केला

यदि किसी को एसिडिटी की समस्या है और उस में वह रहत पाना चाहता है तो उसे रोजाना केले का सेवन करना चाहिए यह उपचार एसिडिटी की समस्या को दूर करता है। 

उपाय #3. जीरा

जीरा भी दालचीनी की तरह पाचन को तेज करने का काम करता है जिससे खाना जल्दी पच जाए, जीरा एसिडिटी की समस्याओं को दूर भगाता है इसलिए इसका उपयोग अच्छा माना जाता है। 

उपाय #4. अदरक

अदरक में कुछ ऐसे एजाइम मौजूद होते हैं जो पेट में बनी गैस को बाहर निकालने का कार्य करते हैं इसलिए एसिडिटी में अदरक का उपयोग सबसे सही इलाज है। 

उपाय #5. आंवला

आंवला वैसे ही पेट के लिए अच्छा होता है एसिडिटी और गैस वाली समस्या में आंवले को काले नमक के साथ खाने से गैस की समस्या दूर होती है या आप मुरब्बे का भी सेवन कर सकते हैं यह दोनों तरीके एसिडिटी में लाभकारी होते हैं। 

उपाय #6. सौंफ

सौंफ के सेवन से ठंडक मिलती है आप रोजाना खाना खाने के बाद थोड़ा सौंफ खा सकते हैं जो पेट के लिए भी अच्छा होता है यदि पेट में जलन हो रही हो सौंफ खाने से राहत मिलती है और एसिडिटी की समस्या भी दूर होती है। 

उपाय #7. दूध

एसिडिटी की समस्या में दूध एक रामबाण उपाय है। पेट में जलन वाली अवस्था में आप ठंडे दूध का सेवन कर सकते हैं या फिर दूध में उतना ही पानी मिलाकर पी सकते हैं। गैस में यह दोनों कारगर उपाय है। 

उपाय #8. तुलसी

जब हम घरेलू इलाज की बात कर रहे हो उसमे तुलसी जरूर शामिल होती है क्योंकि यह पेट के लिए काफी फायदेमंद होती है। आप रोजाना खाना खाने के बाद तुलसी के पत्ते को चबा सकते हैं। 

उपाय #9. इलायची

इलायची एसिडिटी और गैस को ठीक करने में बहुत अच्छे साबित होते हैं जब पेट में जलन महसूस हो रही हो तो इलायची को मुंह में डालकर कुछ समय तक चूसते रहे यह तरीका पाचन तंत्र को सही रखता है। 

उपाय #10. गुड़

खाने के बाद गुड़ के सेवन से पाचन तंत्र ठीक होता है जिससे खाना भी जल्दी पचता है और एसिडिटी बनने की संभावना ना के बराबर होती है। 

उपाय #11. पुदीना

पेट दर्द में पुदीने का इस्तेमाल और एसिडिटी को दूर भगाने में पुदीना सहायक होता है जब पेट में गैस होती है तो जलन महसूस होती है इस जलन को कम करने के लिए के पुदीने के पत्ते को चबाना शुरू कर दीजिए आपको बहुत जल्द ही आराम मिलेगा

उपाय #12. नारियल का पानी

एसिडिटी और गैस की समस्या में नारियल का पानी पीने से राहत मिलती है। 

आखरी शब्द : एसिडिटी और गैस भोजन करने से पेट में पित्त बढ़ने के कारण होता है हमारा पेट में हाइड्रोक्लोरिक एसिड होता है जो भोजन को पचाने में मदद करता है गैस की समस्या में या इसके संतुलन को खराब कर देती है जिसके वजह से अनेक परेशानियां लगती है

इन समस्याओं का इलाज घरेलू उपचारों से आसानी से किया जा सकता है

Leave a Comment